हैल्लो दोस्तों, हमारी आज की पोस्ट सुन्दर काया प्रदान करने वाले 6 योगासन हैं, इस पोस्ट में हम आपको ऐसे 6 योगासन के बारे में बताएंगे जो आपको एक सुन्दर काया प्रदान करने में मदद करते हैं, इसके अतिरिक्त वह शरीर से जुड़ी हुई समस्याओं का भी उपचार करने में सक्षम हैं | तो आइए जानते हैं, वे ऐसे कौन से योगासन हैं, जो आपको सुन्दर काया प्रदान करते हैं :-

सुन्दर काया प्रदान करने वाले 6 योगासन

(1) फिश फेस :-

दोस्तों, फेस योगा करने से चेहरे में खून का संचार को बढ़ाया जाता है जो चेहरे की त्वचा को कसाव देता है। फेस योग करते समय चेहरे की नसों में तेज खिंचाव होता है जिससे चेहरे की झुर्रियां कम होती है। फेस योगा से गाल, आंख, चिन, गला और माथे की त्वचा में कसावट आती है और बढ़ती उम्र का असर चेहरे पर नजर नहीं आता। फिश फेस योग करने से सुंदरता बढ़ती हैं |
सुन्दर काया प्रदान करने वाले 6 योगासन

सुन्दर काया प्रदान करने वाले 6 योगासन


(2) भुजंगासन :-
दोस्तों, भुजंगासन के अभ्यास का सबसे सही समय सुबह का होता है। लेकिन अगर किसी कारणवश आप सुबह इस आसन को नहीं कर पाते हैं तो आप इस आसन का अभ्यास शाम को भी कर सकते हैं। भुजंगासन से पेट के निचले हिस्से में मौजूद सभी अंगों के काम करने की क्षमता बढ़ सकती है। मेटाबॉलिज्म सुधरता है और वजन कम करने में मदद मिल सकती है। फेफड़ों और हार्ट की नसों के ब्लॉकेज खोलने में भी मदद मिल सकती है | पाचन तंत्र, मूत्र मार्ग की समस्याएं दूर होती हैं और यौन शक्ति बढ़ सकती है। भुजंगासन से आपको एक सुंदर काया प्राप्त हो सकती हैं |
 
(3) पर्वतासन :-
दोस्तों, पर्वतासन से पेट का मोटापा घटता है. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है. हाथ और उंगलियां मजबूत बनती हैं. पीठ और कंधों का दर्द ठीक होता है. छाती का विकास होता है. स्त्रियों का प्रसव के बाद पेट की त्वचा भी मुलायम होती है, आपको बहुत फायदे मिलते हैं। पर्वतासन करने से फेफड़े साफ और स्वस्थ होते हैं। इसके अलावा इस योगासन को करने से पसलियां और पीठ मजबूत बनती हैं। इसके अलावा भी पर्वतासन को करने के कई फायदे मिलते हैं।
 
(4) हलासन :-
दोस्तों, हलासन पाचन तंत्र के अंगों की मसाज करता है और पाचन सुधारने में मदद करता है। मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है और वजन घटाने में मदद करता है इससे आप को एक सुंदर काया प्राप्त होती हैं | हलासन कमर दर्द, नपुंसकता, साइनोसाइटिस, इंसोम्निया और सिरदर्द में भी फायदा पहुंचाता है। ये स्ट्रेस और थकान से निपटने में भी मदद करता है। 
       हलासन का नियमित रूप से अभ्यास करने पर संपूर्ण शरीर में भरपूर ऊर्जा का संचार होता है और पोषण मिलता है। हलासन से शरीर में रक्त संचार बढ़ता है और गले और पेट के आसपास लचीलापन बढ़ जाता है। हलासन शरीर से तनाव और टेंशन को दूर करता है। गले और गर्दन में होने वाले दर्द में इसके नियमित अभ्यास से कमी आने लगती है।
(5) सूर्य नमस्कार :-
दोस्तों, सूर्य नमस्कार ऐसा योगासन है, जिसमें क्रमबद्ध 12 योगासनों को उपयोग में लाया जाता है। इन आसनों का शरीर के प्रत्येक हिस्से पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इस योग प्रक्रिया के दौरान हर चरण में सांस लेने और छोड़ने की क्रिया होती है, जो विशेष रूप से फेफड़ों की क्रियाशीलता बढ़ा सकता है। इस योग में अपनाए जाने वाले अलग-अलग चरणों का शरीर के अलग-अलग अंगों से जुड़ी मांसपेशियों पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। इस कारण इसका निरंतर अभ्यास मांसपेशियों की गतिविधी बढ़ाकर उनकी कार्यक्षमता में सुधार कर सकता है। इससे उनमें धीरे-धीरे मजबूती आ सकती है।
           सूर्य नमस्कार से सुन्दर काया प्राप्त की जा सकती हैं |इस योग में अपनाए जाने वाले अलग-अलग चरणों का शरीर के अलग-अलग अंगों से जुड़ी मांसपेशियों पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। इस कारण इसका निरंतर अभ्यास मांसपेशियों की गतिविधी बढ़ाकर उनकी कार्यक्षमता में सुधार कर सकता है। इससे उनमें धीरे-धीरे मजबूती आ सकती है। सूर्य नमस्कार द्वारा आप एक सुंदर काया प्राप्त कर सकते हैं |
(6) सर्वांगासन :-
दोस्तों, सर्वांगासन को सभी योग आसन का राजा कहा जाता है क्यों की यह शरीर के सभी अंगो पर  प्रभाव डालता है । इस आसन का उल्लेख हठ योग में भी किया हैं | इस आसन से रक्त संचार तेज होता है, यह यौवन प्रदान करता है। रक्त शुद्धि, मस्तिष्क एवं फेफड़ों की पुष्टि के लिए बहुत उपयोगी है। यह टांसिल व गले के रोगों की रामबाण दवा है, नेत्र ज्योति को बढाता है, वात रोग तथा रक्त विकार को दूर करता है। सर्वांगासन त्वचा रोगों को ठीक करता है और एक सुंदर काया प्रदान करता हैं |
सुन्दर काया

सुन्दर काया

 
हमारी आज की पोस्ट 
सुन्दर काया प्रदान करने वाले 6 योगासन हैं, आप सभी को यह पोस्ट कैसी लगी इसके लिए comment करे, अगर आप को मेरी पोस्ट पसंद आती हैं तो इसे Share करना न भूले और मेरे उत्साह को बढ़ाने मे अपना  महत्वपूर्ण योगदान दे |”धन्यवाद
* Recent Post :-
Categories: Health & Care

admin

Theroyalhindi.co के सभी content मेरे द्वारा उन लोगो के लिए लिखे गए हैं जिन्हें English समझने में परेशानी होती है, Website पर लिखे गए सारे Contents लिखते समय Content सम्बंधित websites, books, E-tutorial, library आदि की सहायता ली गई है, इस ब्लॉग को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिन्दी माध्यम के छात्रों की हर संभव मदद करना है !

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *