हैल्लो दोस्तों, हमारी आज की पोस्ट शादी का प्रमाण पत्र हैं | विवाह में वर और वधू पक्ष के रिश्तेदारों के साथ ही समाज के प्रतिष्ठित लोगों की मौजूदगी होती है | अतः इस रिश्ते को स्वतः ही सामाजिक मान्यता मिल जाती हैं | लेकिन नए जमाने में विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ लेने और विवाह विच्छेद या धोखाधड़ी की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर शादी का प्रमाणपत्र प्राप्त करना वर और वधू, दोनों के हित में है | यह धार्मिक- पारंपरिक तरीके और विशेष विवाह अधिनियम, दोनों तरह से की गई शादियों के लिए जिला विवाह पंजीयक द्वारा जारी किया जाता हैं |

शादी का प्रमाण पत्र

* शादी प्रमाण पत्र की जरूरत कहाँ पड़ती हैं :-
(1) जॉइंट बैंक खाता खुलवाने में :-
दोस्तों, अगर पति पत्नी एक साथ अपना बैक खाता खुलवाना चाहते हैं, तो उनके पास शादी का प्रमाण पत्र होना आवश्यक हैं |
शादी का प्रमाण पत्र

शादी का प्रमाण पत्र

(2) पासपोर्ट बनवाने में :-
दोस्तों, अगर शादी के बाद महिला पासपोर्ट बनवाना चाहती हैं, और उसमें अपने पति का नाम चाहती हैं, तो ऐसे में उसे शादी के प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी |
(3) बीमा पॉलिसी लेने में :-
दोस्तों, अगर पति पत्नी एक साथ बीमा पॉलिसी लेते हैं, ऐसे में शादी के प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ती हैं |
(4) वीजा लेने में आसानी :-
दोस्तों, पति पत्नी अगर किसी देश में घुमने का प्लान बनाते हैं, तो शादी के प्रमाण पत्र से उन दोनों का वीजा एक साथ क्लियर होने में आसानी हो जाती हैं, साथ ही वीजा जल्द भी मिल जाता हैं |
(5) शादी के बाद नाम बदलना :-
दोस्तों, शादी के बाद लड़की अगर नाम में परिवर्तन करना चाहती हैं, या नहीं चाहती ऐसी स्थिति में वह शादी के प्रमाण पत्र का उपयोग कर सकती हैं |
(6) कानूनी विवाद उत्पन्न होने पर :-
दोस्तों, अगर पति पत्नी के बीच किसी प्रकार का कानूनी विवाद उत्पन्न हो जाता हैं, तो ऐसे में शादी की वैधता तय करने हेतु शादी का प्रमाण पत्र एक उत्तम दस्तावेज हैं, जिससे धोखाधड़ी का खतरा भी कम हो जाता हैं |
* शादी के प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज :-
(1) वर तथा वधू के पासपोर्ट साइज फोटो
(2) विवाह की फोटो
(3) वर तथा वधू का पहचान पत्र
(4) वर तथा वधू का शपथ पत्र
(5) वर तथा वधू के माता पिता का पहचान पत्र
(6) दो गवाहों के पहचान पत्र
(7) वर तथा वधू की जन्म तिथि का प्रमाण पत्र
(8) शादी का कार्ड
(9) पण्डित का प्रमाण पत्र
* शादी के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कहाँ करें :-
(1) शहरी क्षेत्र में नगर निगम कार्यालय :-
दोस्तों, अगर पति पत्नी शहरी क्षेत्र में निवासरत हैं, और उनका विवाह स्थल भी शहरी क्षेत्र हैं, ऐसे में उन्हें नगर निगम कार्यालय में आवेदन करने की आवश्यकता होगी |
(2) नगर पालिका कार्यलय :-
दोस्तों, जिन क्षेत्रो में नगर पालिका का क्षेत्र हैं, उस जगह के पति पत्नी को नगर पालिका में ही आवेदन करना होता हैं |
(3) ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत कार्यालय :-
दोस्तों, अगर पति पत्नी ग्रामीण क्षेत्र में निवासरत हैं, एवमं उनकी शादी भी ग्रामीण क्षेत्र में हुई हैं, ऐसे में उन्हें ग्राम पंचायत में आवेदन करना होता हैं |
नोट :- जिस स्थान पर विवाह संपन्न हुआ है, उसी स्थान पर आवेदन करना चाहिए |
आज की हमारी पोस्ट शादी का प्रमाण पत्र
 हैं, इससे आपको शादी के प्रमाण पत्र की आवश्यकता के बारे में पता चलता हैं | आप सभी को यह पोस्ट कैसी लगी इसके लिए comment करे, अगर आप को मेरी पोस्ट पसंद आती हैं तो इसे Share करना न भूले और मेरे उत्साह को बढ़ाने मे अपना  महत्वपूर्ण योगदान दे |”धन्यवाद
* Recent Post :-

admin

Theroyalhindi.co के सभी content मेरे द्वारा उन लोगो के लिए लिखे गए हैं जिन्हें English समझने में परेशानी होती है, Website पर लिखे गए सारे Contents लिखते समय Content सम्बंधित websites, books, E-tutorial, library आदि की सहायता ली गई है, इस ब्लॉग को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिन्दी माध्यम के छात्रों की हर संभव मदद करना है !

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *